टूटी झरना मंदिर झारखंड -एक ऐसा मंदिर जहां भगवान शंकर के शिव लिंग पर जलाभिषेक कोई और नहीं स्वयं माँ गंगा करती हैं। - ॐ जय माता दी ॐ

Latest:

Translate

Search This Blog

“ सर्वमङ्गलमाङ्गल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके । शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोऽस्तु ते ॥

Tuesday, 12 May 2020

टूटी झरना मंदिर झारखंड -एक ऐसा मंदिर जहां भगवान शंकर के शिव लिंग पर जलाभिषेक कोई और नहीं स्वयं माँ गंगा करती हैं।





टूटी झरना मंदिर
झारखंड के रामगढ़ में एक मंदिर ऐसा भी है जहां भगवान शंकर के शिव लिंग पर जलाभिषेक कोई और नहीं स्वयं माँ गंगा करती हैं। मंदिर की खासियत यह है कि यहाँ जलाभिषेक साल के बारहो मास चौबीसो घण्टे होता है और इसे कोई और नहीं स्वयं गंगा जी द्वारा किया जाता है। यह पूजा सदियों से चली आ रही है। कहते है इस जलाभिषेक का विवरण पुराणों में भी मिलता है। भक्त मानते हैं कि यहां सच्चे दिल से मांगी गयी मुरादे सदैव पूरी होती है। 

झारखण्ड के रामगढ जिले में स्थित इस प्राचीन शिव मंदिर को लोग टूटी झरना के नाम से जानते है। मंदिर की इतिहास 1925 से ही जुडा है।कहते हैं तब अंग्रेज इस इलाके से रेलवे लाइन बिछाने का काम कर रहे थे। पानी के लिए खुदाई के दौरान उन्हें जमीन के अन्दर कुछ गुम्बदनुमा चीज दिखाई पड़ा।कौतूहलता अंग्रेजों के मन में भी जगी लिहाजा पूरी खुदाई की गई और अंततः ये मंदिर पूरी तरह से नज़र आया। मंदिर के अन्दर भगवान भोले का शिव लिंग मिला और उसके ठीक ऊपर माँ गंगा की सफेद रंग की प्रतिमा मिली। प्रतिमा के नाभी से आपरूपी जल निकलता रहता है जो उनके दोनों हाथों की हथेली से गुजरते हुए शिव लिंग पर गिरता है। 

मंदिर के अन्दर गंगा की प्रतिमा से स्वंय पानी निकलना अपने आप में एक कौतुहल का विषय बना है। सवाल यह है कि आखिर यह पानी अपने आप कहा से आ रहा है। ये बात अभी तक रहस्य बनी हुई है। कहा जाता है कि भगवान शंकर के शिव लिंग पर जलाभिषेक कोई और नहीं स्वयं माँ गंगा करती हैं। यहां लगाये गए दो हैंडपंप भी रहस्यों से घिरे हुए हैं। यहां लोगों को पानी के लिए हैंडपंप चलाने की जरूरत नहीं पड़ती है बल्कि इसमें से अपने-आप हमेशा पानी नीचे गिरता रहता है। वहीं मंदिर के पास से ही एक नदी गुजरती है जो सूखी हुई है लेकिन भीषण गर्मी में भी इन हैंडपंप से पानी लगातार निकलता रहता है। 

मंदिर में श्रद्धालूओं का तांता लगा रहता है।लोग दूर दूर से यहां पूजा करने आते हैं।भक्त मानते हैं कि यहां सच्चे दिल से मांगी गयी मुरादे सदैव पूरी होती है। श्रद्धालुओ का कहना हैं टूटी झरना मंदिर में जो कोई भक्त भगवान के इस अदभुत रूप के दर्शन कर लेता है उसकी मुराद पूरी हो जाती है।भक्त शिवलिंग पर गिरने वाले जल को प्रसाद के रूप में ग्रहण करते हैं और इसे अपने घर ले जाकर रख लेते हैं. कहते हैं इस जल में इतनी शक्तियां समाहित हैं कि इसे ग्रहण करने के साथ ही मन शांत हो जाता है. दुखों से लड़ने की ताकत मिल जाती है।

Broken waterfall temple, Jharkhand

Broken waterfall temple
There is also a temple in Ramgarh, Jharkhand, where no one else does mother Ganga on the Shiva Linga of Lord Shankar. The specialty of the temple is that the Barho month of Jalabhishek year takes place round the clock and it is done by none other than Ganga ji himself. This worship has been going on for centuries. It is said that the description of this Jalabhishek is also found in the Puranas. Devotees believe that the wish sought here is always fulfilled here.

Located in Ramgarh district of Jharkhand, this ancient Shiva temple is known by the name of Broken waterfall. The history of the temple dates back to 1925. It is said that the British were working to lay railway lines from this area. While digging for water, he saw something dome inside the ground. Curiosity was aroused in the mind of the British as well. The Shiva Linga of Lord Bhole was found inside the temple and a white colored statue of Mother Ganga was found just above it. The water from the idol of the statue continues to flow, which falls on the Shiva Linga, passing through the palm of both his hands.

Getting water from the Ganges statue inside the temple itself has become a matter of curiosity. The question is, where is this water coming from? This matter still remains a mystery. It is said that no one else does Ganga on the Shiva Linga of Lord Shankar but Goddess Ganga herself. The two hand pumps installed here are also surrounded by secrets. Here people do not need to run hand pumps for water, instead of this, water always keeps falling down. At the same time, a river passes near the temple which has become dry but even in the scorching heat, water flows continuously from these hand pumps.

The temple is full of devotees. People come from far and wide to worship here. Devotees believe that the wish fulfilled here is always fulfilled. Devotees say that in the Broken waterfall temple, any devotee who sees this amazing form of God is fulfilled. Huh. It is said that this water contains so many powers that the mind becomes calm with its reception. You get the strength to fight with sorrows.

No comments:

Post a comment